मेरा भारत NEWS

Raids at 20 NIA locations on Dawood Ibrahim's close friends in Mumbai

सुशील रिंकू के हल्के में “”आप”” की धर-पकड़ मामला अवैध कलोनी में बन रहे एक ही नक्शे पर मकान और दुकानों का

सुशील रिंकू के हल्के में “”आप”” की
धर-पकड़

नगर निगम भी कर रही गुलाम मामला अवैध कलोनी में बन रहे एक ही नक्शे पर मकान और दुकानों का

जालंधर  महानगर के वेस्ट हल्के के धाकड़ माने जाने वाले विधायक सुशील रिंकू के इलाके में आप के नेताओ की धरपकड़ शुरू हो चुकी है जो कोंग्रेस विधायक के घर की कुछ दूरी पर ही अवैध कलोनी काट दी गई है जिस में एक ही नक्शे पर दर्जनों 2 से 3 मरले तक के मकान बनाए जा रहे है और बाहरी क्षेत्र में अवैध दुकानों की त्यारी दिन रात चल रही है इस ये कलोनी काला सिंघा रोड पर स्थित प्लाई की फेक्ट्री के पिछे गुरु नानक नगर में कुछ रसूखदार जो अपनी पार्टी ने निकाले हुए लोग है जो आम आदमी पार्टी में अपनी रोटियां सेक रहे है और जनता के साथ अफसरों पर भी अपना रोब दिखा रहे है ये लोग कुछ मोहल्ले के प्रधानों के साथ मिलकर उक्त अवैध कॉलोनी काटी गई है।

किस कदर उक्त कालोनी काटने वाले राजनैतिक पार्टियों में पद रखने वाले लोगों ने कुछ छुटपुट प्रधानों को गिफ्ट में दुकाने व प्लॉट देकर मामले को रफा-दफा करने या यूं कहें कि मामले को तूल न देने की वजह से दुकाने व प्लाट गिफ्ट किए गए।

नगर निगम अधिकारियों को इस अवैध कॉलोनी व इसमें बनाई जा रही अवैध दुकानों की शिकायतें कई बार हो चुकी है परंतु नगर निगम के अधिकारियों द्वारा कार्यवाही के नाम पर सिर्फ और सिर्फ नोटिस जारी करने का हवाला दिया जाता है नगर निगम अधिकारियों द्वारा उक्त अवैध कॉलोनी को करीब डेढ़ महीना पहले नोटिस जारी किए गए थे परंतु उसके बाद आज तक उक्त कॉलोनी पर नगर अधिकारियों द्वारा कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गई।

सूत्र बताते हैं कि उक्त अवैध कॉलोनी काटने वाले लोगों ने कुछ एक नगर निगम के अधिकारियों को भी गुलावट या यूं कहें कॉलोनी में बनाई गई दुकान में गिफ्ट के तौर पर ऑफर की गई है शायद इसीलिए ना तो नगर निगम के उच्च अधिकारियों का ध्यान इस अवैध कालोनी की ओर है और ना ही नगर निगम के कमिश्नर साहब का इस कॉलोनी पर कार्यवाही करने की कोई मंशा दिखाई देती है
अब इकाले में चर्चा का विषय बनी हुई है की विधायक के घर पर पास ही अवैध कलोनी काटी गई वो भी विरोधी दल के नेताओ द्वारा इस में कही यहां हिसेदारी तो नही या फिर सेटिंग की हो ,,,,,पर जितने मुंह उतनी बातें हम ये ही कहेंगे की इस का नतीजा आने वाले चुनावों में देखा जा सकता है।