मेरा भारत NEWS

अवैध colony : जालंधर में धड़ल्ले से अवैध कालोनियां काट रहे हैं। कालोनाइजर मामला जंडियाला मजकी का

जालंधर में धड़ल्ले से अवैध कालोनियां काट रहे हैं।

हालांकि पुडा, नगर निगम अफसरों के साथ इनकी मिलीभगत चलती रहती है लेकिन सेटिंग के खेल में हमेशा मुनाफा कालोनाइजर ही कमाते हैं। ताजा मामला कांगनीवाल के नजदीक समरावा गेट के आगे जंडियाला मंजकी का है। यहां पुली के साथ नई कालोनी काटी गई है। बताया जाता है कि यह कालोनी पहले गलाडा में आती थी लेकिन नियमों के उल्लंघन पर कॉलोनी को नोटिस देकर इस कॉलोनी को अवैध घोषित करके काम बंद करवा दिया गया परंतु अब ये कॉलोनी डिस्टिक टाउन प्लानर के अंतर्गत गई है। इसका काम धड़ल्ले से शुरू हो गया है। सूत्रोंके मुताबिक ऐसा कोई भी नियम नहीं है जिसका पालन इस कालोनी को काटने में किया गया है। जैसे कि यहां बिजली की तारें लटकती दिखती हैं। न तो पार्क ,ना स्कूल, ना कोई कम्युनिटी हाल के लिए जगह छोड़ी गई है। कालोनी में छोटे बड़े हर प्रकार के प्लाट काटे गए हैं। दुकानें भी काटी गई हैं जोकि आवासीय क्षेत्र मेंबनाना गैर कानूनी है। बताया जाता है कि इस कालोनाइजर की सरकारी अधिकारियों से सेटिंग है उसी सेटिंग की बदौलत ये प्लाट काटे गए हैं। दरअसल इस दीवाली भी कुछ अफसरों को मोटे गिफ्ट दिए गए हैं ताकि प्लाट खरीदने वालों व सरकार को मोटा चूना लगाया जा सके।