मेरा भारत NEWS

बिल्डिंग मालिक ने कहा रंजिश के तहत रैकी कर उन पर किया गया हमला,पुलिस को दी थी शिकायत

कुछ दिन पहले ट्रेवल एजेंटों के परिजनों ने बिल्डिंग मालिक को घेरकर लात घुसे और बेल्टों से पिटा

 

बिल्डिंग मालिक ने कहा रंजिश के तहत रैकी कर उन पर किया गया हमला,पुलिस को दी थी शिकायत

 

ट्रैवल एजेंट की पत्नियों ने बिल्डिंग मालिक द्वारा चोरी से उनके चेक बांटने की वीडियो बनाकर भी मीडिया को दी।

 

आज से 2 महीने पहले जालंधर पुलिस ने 4 ट्रैवल एजेंट को पकड़कर भंडाफोड़ कर 534 पासपोर्ट काबू किए थे और यह शातिर ट्रैवल एजेंट भोले भाले लोगो को विदेश के सपने दिखा उनके पैसे ऐंठ लेते थे। इन ट्रेवल एजेंटों की गिरफ्तारी के बाद उनके परिजनों और साथियों द्वारा बितो दिन बिल्डिंग मालिक को घेर कर हमला कर दिया और उसे बेल्टों और लात घुसो से बुरी तरह से पीटा। जिसके बाद पुलिस दोनों पार्टी के लोगों को थाने में ले गई और वहां पर दोनों ने अपनी शिकायतें पुलिस में दर्ज करवाई। लेकिन पुलिस अधिकारी शिकायतकर्ता की शिकायत को लेकर अपनी बात से पलट गए और उन्होंने कहा किन में से किसी ने उनके पास शिकायत दर्ज नहीं करवाई।

 

जाली ट्रैवल एजेंट द्वारा भोले भाले लोगों को विदेशों का सपना दिखाकर उन्हें लूटने का धंधा जोरों शोरों से चल रहा है। यही नहीं उनके परिजन व साथीयो ने इस काम में उनका पूरा सहयोग भी दे रहे हैं। बात की जाए जालंधर की तो जालंधर में लगभग 2 महीने पहले पुलिस ने ट्रैवल एजेंटों के गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए उनसे 534 लोगों के दबाए हुए पासपोर्ट बरामद किए थे और कई धाराओं सहित उन पर मामला दर्ज कर कार्यवाही की थी। जब से ट्रैवल एजेंटो की गिरफ्तारी हुई तब से उनके परिजन और बिल्डिंग मालिक के बीच विवाद बढ़ता रहा।मारपीट की घटना उस दिन घटी जब पंजाब के मुख्यमंत्री ने जालंधर आना था तो पुलिस ने तुरंत इस घटना का संज्ञान लेते हुए दोनों पार्टियों के लोगों को देर रात तक थाने में बिठा रखा था। आज जब इस मामले में पुलिस अधिकारी से बातचीत की गई तो इस घटना को लेकर उन्होंने माना लेकिन साथ ही यह भी कहा है कि इन दोनों में किसी ने उनको शिकायत नहीं दी थी। हालांकि बिल्डिंग मालिक हरमेश ने कहा की जो ट्रैवल एजेंट पुलिस द्वारा पकड़े गए थे उनका दफ्तर उनकी बिल्डिंग में था और जिस दिन वो वकील के पास मिलने जा रहे थे तो ट्रेवल एजेंटों के परिजनों और उनके साथियों ने

समय उन पर हमला कर दिया। जिसमें वह बुरी तरह से जख्मी हो गए। इस घटना की शिकायत और मेडिकल करवाकर उन्होंने पुलिस को सौंप दिया था। उन्होंने कहा रंजीत ने उन पर हमला करवाया गया है और अब वह पुलिस से इंसाफ की मांग कर रहे हैं।

 

– हरमेश (बिल्डिंग मालिक)

 इस मारपीट की घटना को लेकर जब थाना 6 के एसएचओ परमदिन खान सवालात किए तो उनका कहना की पुलिस ने ट्रैवल एजेंटो का रैकेट पकड़ा था तब एजेंटो का दफ्तर उसी बिल्डिंग में था,जिसके व्यक्ति को एजेंटो के परिजन महिलाओं और साथियों ने पिटा है। यह भी माना कि जब मारपीट की घटना घटी तब वह खुद मौके पर पहुंचे और दोनों पार्टियों को थाने ले आए। महिलाओं द्वारा बिल्डिंग मालिक पर छेड़छाड़ के आरोप भी लगाए गए थे और हमने सीसीटीवी फुटेज चेक की थी जिस रेस्टोरेंट में यह लोग पहले जाकर बैठे थे। उन्होंने कहा मारपीट उस व्यक्ति से जरूर हुई है लेकिन दोनों पार्टियों में से किसी ने भी पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं करवाई है। उन्होंने कहा कि बिल्डिंग मालिक द्वारा ट्रैवल एजेंटों के चेक बांटने को लेकर यह सारा मामला घटित हुआ। इस बात से साफ पता चलता है की पुलिस अधिकारी बात मारपीट की घटना की मान भी रहे हैं और इस घटना को दबाने का प्रयास भी कर रहे हैं।

 

परमदीन खान(एसएचओ थाना डिवीजन 6)

 

इस घटना को लेकर ट्रैवल एजेंट की परिजन महिलाओं से बात की तो उन्होंने मीडिया को उनके द्वारा बिल्डिंग मालिक के चेक बांटने का स्टिंग ऑपरेशन की वीडियो भेज दी लेकिन जब उनसे उनका पक्ष रखने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कैमरे के आगे आने से मना कर दिया।