मेरा भारत NEWS

शिव सेना नेताओं के घरो के बाहर पुलिस ने लगाया मोर्चा,पुलिस कर्मचारी तैनात नही

शिव सेना नेताओं के घरो के बाहर पुलिस ने लगाया मोर्चा,पुलिस कर्मचारी तैनात नही

प्रदेश में लोगो की सुरक्षा करने में आप सरकार विफल:-सुभाष गोरिया

पुलिस जालंधर/अमृतसर में शिव सेना नेता सुधीर सूरी और फरीदकोट में डेरा प्रेमी की सरेराह हत्या के बाद हिन्दू नेताओं को लगातार मिल रही जान से मारने की धमकिया को लेकर जिला पुलिस ने सुरक्षा को लेकर हिन्दू नेताओ की सुरक्षा की सुरक्षा को यकिनि बनाने के लिए उनकी सुरक्षा की समीक्षा करनी शुरू कर दी है।जालंधर वेस्ट में रहने वाले शिव सेना राष्ट्रहित के राष्ट्रीय प्रमुख सुभाष गोरिया,शिव सेना हिंद के युवा प्रमुख इशांत शर्मा,शिव सेना टकसाली के पंजाब चेयरमैन सुनील बंटी के घर के बाहर मोर्चा लगा दिया है।परंतु उस मोर्चे में कोई भी पुलिस कर्मचारी तैनात नही किया गया।जानकारी अनुसार शिव सेना राष्ट्रहित के संस्थापक और हिन्दू नेता सुभाष गोरिया की पहले भी रैकी हो चुकी है और उन्हें जान से मारने की धमकिया मिलने के बाबजूद भी उनकी सुरक्षा को यकिनि नही बनाया गया।सुभाष गोरिया के साथ एक ही सुरक्षा कर्मचारी तैनात है और शिव सेना राष्ट्रहित के प्रमुख बलबीर गोरिया की सुरक्षा पहले ही पुलिस ने वापस ले ली थी।उधर शिव सेना टकसाली के पंजाब चेयरमैन सुनील बंटी को विदेश से उनके मोबाइल वट्सप पर जान से मारने की धमकिया मिल रही है।जिसकी शिकायत उन्होंने थाना 6 मॉडल टाउन में कर रखी है और शिव सेना हिंद के युवा प्रमुख इशांत शर्मा को भी जान से मारने की धमकिया लगातार आ रही है।उसके बाबजूद भी पुलिस इसे हल्के में ले रही है।शिव सेना बाल ठाकरे के युवा नेता दीपक भगत और राजू ठाकुर को भी बीती रात जान से मारने की धमकिया विदेशी नंबरों पर आई जिसकी शिकायत थाना भार्गव कैंप को दर्ज करवा दी गई।शिव सेना राष्ट्रहित के राष्ट्रीय संस्थापक और हिन्दू नेता सुभाष गोरिया से संपर्क किया तो उन्होंने कहा की राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए मैजूदा सरकार जिम्मेवार है।उन्होंने कहा कि अमृतसर में शिव सेना नेता सुधीर सूरी फरीदकोट के कोटकपूरा में दिन दहाड़े डेरा प्रेमी प्रदीप सिंह की हत्या सहित राज्य में हाल में हुई घटनाओं ने भगवंत मान सरकार पूरी तरह से बेनकाब कर दिया है।उन्होंने कहा कि आप सरकार लोगो की सुरक्षा सुनिशिचत करने में विफल रही है।गोरिया ने कहा कि ब्रिटेन,कनाडा और अमरीका से अपने बच्चों की शादी के समारोह में आए प्रवासी भारतीयों को अमृतसर में शराब माफिया गुंडों के हमले का सामना करना पड़ा नाराज़ परिवासी भारतीयों ने अब फिर कभी पंजाब नही आने का संकल्प लिया है।यही नही गुंडा टैक्स से परेशान अबोहर ने किन्नू उत्पादकों ने पंजाब छोड़ने और पड़ोसी राज्यो जैसे हरियाणा और राजस्थान में अपना व्यवसाय स्थानांतरित करने की धमकी दी है।उन्होंने कहा कि पंजाब में कश्मीर जैसा माहौल बनाने के लिए विदेशो में बैठे खालिस्तानी आंतकी साजिशें रच रहे है।