मेरा भारत NEWS

जालंधर की मकसूदां सब्जी मंडी में भ्रष्टाचार के चलते बन रहीं हैं अवैध ढंग से दुकाने, मानयोग उच्च न्यायालय के आदेशों का उल्लंघन

जालंधर की मकसूदां सब्जी मंडी में भ्रष्टाचार के चलते बन रहीं हैं अवैध ढंग से दुकाने, मानयोग उच्च न्यायालय के आदेशों का उल्लंघन

 

महिंद्र गाँधी

 

जालंधर की मकसूदां सब्जी मंडी में भ्रष्टाचार के चलते बन रहीं हैं अवैध ढंग से दुकाने, मानयोग उच्च न्यायालय के आदेशों का उल्लंघन| फील्ड सुपरवाइज़र की मिलीभगत से मंडी में बन रही हैं अवैध ढंग से दुकानें, भ्रष्टाचार के चलते हाई कोर्ट के आदेश का भी उल्लंघन| पंजाब मंडी बोर्ड के नियमों अनुसार कोई भी तीन या चार मंजिला दुकान नहीं बना सकता और ना ही कोई बेसमेंट बना सकता, मगर यहां क्या है मार्किट कमेटी और पंजाब मंडी बोर्ड के अधिकारियों की मिलीभगत के चलते 3-3 मंजिला दुकान भी बन रहीं हैं और बेसमेंट भी| मंडी के सूत्र बताते हैं कि, मंडी में जितना भी भ्रष्टाचार हो रहा है यह फील्ड सुपरवाईजर का बनाया हुआ जाल है, क्योंकि यह ला नाम का सुपरवाईजर काफ़ी समय से यहाँ तैनात है, और 60 एकड़ में फैली मंडी को, मंडी की एक एक इंच जगह के बारे में जानता है| सूत्र यह भी बताते हैं कि मंडी में जितना भी कारोबार हो रहा है उसका आधा पैसा तो यह सरकारी बाबु ले जाते हैं| सूत्र बताते हैं कि जब कोई खबर छपती है तो फिर नोटिस का सिलसिला शुरू हो जाता है, जब पैसा मिल जाता है तो नोटिस रद्दी की टोकरी में चले जाते हैं| भ्रष्टाचारियों पर कोई कार्यवाही नहीं, ऐसे में देखना यह है कि यह सिलसिला आखिर कब तक चलेगा| क्या चेयरमैन पंजाब मंडी बोर्ड इसमें खुद दख़ल देंगे या पंजाब सरकार